5S की पूरी जानकारी हिंदी मे - ASKPOWERPLANT
5 s ki puri jaankari hindi mai
बायलर की हिंदी मे जानकारी
1

5S की पूरी जानकारी हिंदी मे

दोस्तों आज मैं आप के साथ पॉवर प्लांट मेनटेनेन्स को इम्प्रूव करने हेतू एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी आप1लोगो के साथ साजा करना चाहता हूँ आशा करता हु की आप इस जानकारी को पूरा पढ़ कर इसे आपने प्लांट की मेनटेनेन्स , प्रोडक्शन , एफिशिएंसी को बढाने में इस जानकारी का पूर्ण रूप से उपयोग करोगे , चलो सुरवात करते है इस नई जानकारी के बारे में यहाँ जानकारी वयक्तिगत कार्यस्थल को सुचारू रूप से बनाये रखने में सहायता करती है जिसे हम आम भाषा में 5 एस से जाना जाता है 5 एस को एक workplace organization method के नाम से जाना जाता है 5 एस एक जापानी तकनीक है जो यह सिखाती है की पांच सरल स्टेप्स में कैसे स्थान का अच्छा रख रखाव रकखा जाता है जिससे हमे कार्यकुशलता घुनवता और सुरक्षा मिलती है। 5 एस की यहाँ टर्म्स जापानी अक्षरों से बनती है जो इस प्रकार है ” सीरी , सेटोन, सिसो ,सीकेत्सु , और शित्सुके ( sort or straighten , set in orders ,shine or clean ,standardized ,sustained ) और हिंदी मैं हम इसको बोल सकते है ( छटाई , यथास्थान , चमकना , सही मानकीकरण , स्व -अनुसासन )

1 एस – S eiri / सॉर्टिंग / छाटना / SHORTING

1 . आवश्यक तथा अनावश्यक /पुरानी वस्तु में , मशीन , स्पेयर अदि विभाजन करे और उपलबध जगह का कुशल तरीके से उपयोग करे
2. हर वस्तुओ की व्यवस्था उसके आवश्यकता उपयोग ( कब और कहा कितनी आवश्यकता ) के अनुशार करे
3. अनावश्यक इन्वेंटरी तो लाल बिन या नियोजित जगह पर रखे
5. वाक वे तथा ऑपरेटर के एरिया में परवेशक सुविधा रखे
6. वस्तुओ की छटाही करते दौरान यह पता लगाने की कोसिस करे की यह समस्या किस कारन से उत्पान हुई थी , ताकि आगे जाकर यहाँ समस्या दोबारा उत्पान न हो
7. विभाजन की सबसे महत्वपूर्ण बात है की हार व्यक्ति प्रमाणको के अनुशार शुवाव्य्स्था तथा नियोजन की जिम्मेदारी ले

2. एस – Seiton सु- व्यवस्था करना ,SET IN ORDER

1. सभी रिसोर्सेज के लिए सुनिश्चित जगह होनी चाहिए तथा हर वास्तु जगह पर और शंख्या के अनुसार और क्रम में लगी होनी चाहिए
2. सभी विजुअल , अनुकरमिनका , सैंबोर्ड़ , स्लोगन्स , बैनर्स तथा लेवलिंग एवं नामकली परमानक के अनुसार होनी जरूरी है ! यहाँ दो भाषाओ में होनी जरूरी है
4. कलर कोडिंग से सभी जगह की पाचन करे जैसे वाक वे , एंट्री निषाद चैटर अदि
5. स्टोरेज की जगह का प्रभार रूप से उपयोग करे उपयोग में न आने वाली स्टोरेज की जगह निरुपोयग / वेस्ट सिद्द होगी
6. एक विसुअल सिस्टम बनये की मिसिंग वास्तु अपने जगह निर्धारित जगह पर न हो तो उसका तुरंत पता लाग जाये की वास्तु किस के पास है
7. यंर्तों के पास ही एस ओ पी / कार्य निर्देश तथा नियम और सूचनाओं को सहज रूप से पर्दर्सित किया जाना जरूरी है
8. कठिन रूप की कार्यपद्ति का फोटो वाला एस ओ पी दर्शये

3. एस –Seiso साफ़ – सफाई / चमक / SHINE

1. साफ़ सुथरी काम करने की जगह पर हमेशा ब्रेकडाउन काम होते है
2. सव्छ्ता के साथ किया हुआ शाइनिंग और अर्थपूर्ण सवछता और प्रशिक्षण होना जरूरी है अर्थपूर्ण सवछता के लिया उचित शदनो का प्रयोग करने का परीक्षण लोगो को देना चाहिए
3. शयनिंग एक ऐटिटूड है जो यहाँ दिखता है की सभी चीजे ठीक है
4. शाइनिंग एक तरह से मशीनो को ब्रेकडाउन होने से बचता है साफ़ शाफ़ई करना प्रिवेंटिव मेंटेनेंस का हिस्सा है
5. कार्य चैत्र की पूरी साफ़ शाफ़ई कर उसको दूल मिटटी से दूर करने की कोसिस करे
6. प्रभावी स्वत्छता के लिया उचित थता योगय जिम्मेदारी को निर्धारित करे
7. शाफ़ई करने वाले आदमी की सुरक्षा के लिया ग्लव्स , फेस मास्क , हर सुरक्षा सामग्री उपलबध करवये हर बार शाफ़ई करने के बाद अगली बार कैसे अच्छा हो यह सोचना चाहिए

4. एस – Seiketsu स्टैंडर्डज़ेशन /मानीकरण / STANDARDZIE

1. हर परमेटर का स्टैण्डर्ड बनाये , निय्रंत्रण रखे और शमय अनुसार चेक करे
2. जब सेग्रिग्रेशन , रचनात्मक व्यवस्था और शाफ़ई पूरी हो तो सभी को मिला कर हर तकनीक और कार्य पद्ति का सभी को अनुमान हो गया हो इस के बारे में जान ले
3. हर पैरामीटर की वर्किंग लिमिट फिक्स करे थता कार्य छेत्र/ मशीन में दर्शये ( सुरक्षित जैसे की कार्य का मापढण्ड , नयन्ताम और उच्चतम मर्यादा , आवश्यक नयन्ताम प्रमाण , उच्चतम उचाई , उच्चतम रेंज , प्रेशर रेंज , वेग मर्यादा इत्यादि
4. सभी प्रकार के अनुमानों को शून्य करे
5. हर एक बात मई परमानितकरण को बढ़ावा दे , वस्तुओ के उपयोगी को पर्सनॅलिजे न करे यही बात परिक्षीण और नियमत आर्डर दवरा समाघे दे
6. विसुअल इंडिकेटर , विसुअल कण्ट्रोल और विसुअल मैनेजमेंट ( कलर कोडिंग , प्रमाणित प्लांट की साइजेस व डायमेंशन का संधर्ब करे
7. रंगो का उपयोग लोगो के हेलमेंट्स , फायर फइटर्स के शर्ट , पॉकेट कलर चैम्पियन्स बजेस पर करे ताकि काम ka अनुमान लगाया जा सके ऐसे रंगो से दिवेशन की जल्दी से पाचन हो जाए
8. इंडिकेटर व चिनो से कर्मचारी को न हे सही का पता चल सके बल्कि गलत हो जाने पर उसे सही मई बदलने की प्रणाली का भी पता चल सके
9. स्वीट्चेस , नॉब्स , गैस पानी , हवा , केमिकल के कण्ट्रोल वाल्व पर ठीक तरह से ों और ऑफ का निसान लगये

5. एस Shitsuke – सव्या अनुसासन / कायम रखना / SUSTAIN

1. आसानी से साब को समाघ मई आने वाली भाषा में बात चित करे और फीडबैक जरूर ले
2. समय अनुसार , नियम अनुसार सेल्फ ऑडिट करे
3. टीम में रिस्पांसिबिलिटी , लीडरशिप , रेस्पेक्ट , डिसिप्लिन की आदत डाले
4. रचनात्मक कार्यपद्ति की प्रणाली पर ध्यान दे
5. अनुसासन रहे कर कार्य करे ताकि सुधार और बदलाव कायम रहे
6. समय समय पर फॉलो उप करना व शमरणपत्रो का प्रयोग करने की आदत न डाले और प्रणाली का प्रयोग करे ताकि सवयं अनुसासन का प्रयोग हो सके हार गतिविदिको समय पर करने की आदत डाले ताकि दिया हुआ कार्य समय पर पूरा हों सके
कंपनी में ५स कल्वेर बनेय रखे एक अच्छा ५स कंपनी के क्लोवेर को दिखता है
7. रचनात्मक कार्य थता सुधार की प्रणाली का प्रयोग करे , कार्यपद्ति में अनावश्यक रेपीटशन न होने दे ेस्लेया फुलप्रूफ़िंग करे
8. परक्षिण दवरा सीखना तथा आदान प्रधान जैसे अच्छी और सकरणात्मक आदतों का प्रचार करे
9. मैनेजर को आपने स्टाफ को अनुसासन की आदत लगने के लिया उचित मारगदर्शन , ट्रेनिंग अद्दिकार प्रधान करना जरूरी है

 

कंपनी मैनेजमेंट को 5 S से लाभ लेन के लिया इसऐ इसको कंपनी में लागू करना चाहिए । जब इसको इम्प्लीमेंटेशन करने की प्लानिंग हो जाएं तो कंपनी को चाहिए की वो आपने वर्कर्स को इसके बारे में training दे , और उनको बताना चाहिए की कैसे 5S को आपने वर्किंग एरिया में कैसे aaply करना चाहिए , 5S क्या है ? इसको आपने वर्किंग एरिया में अप्लाई करने से के लाभ होता है और इसको कार्यक्षेत्र में अप्लाई न करने से क्या हानि होगी , कंपनी को अपना एक्शन प्लान आपने वर्कर्स को बताना चाहिए जैसे की हमारा कार्यक्षेत्र अभी की सिचुएशन में है और हमे कैसे इसमे इम्प्रूवमेंट करना है। और कितनी शमय में कहा होना चाहिए और यहाँ भी बताना चाहिए की 5S को कैसे इम्प्लीमेंट करना चाहिए ।

5S को कार्यक्षेत्र में कैसे करें लागू

– कार्यक्षेत्र में जिसकिसी वस्तु की ज़ुर्रत नहीं हो तो उसको उसकी जगह से हटा देना चाहिए।
– आपने कार्यक्षेत्र हर रोज़ सफाई करनी चाहिए और इसको दुसरो को भी इसे गन्दा करने से रोकना चाहिए।
– सबी चीजो को उनकी जगह पर रखना चाहिए और उन वस्तुओं की पहले से ही निर्धारित जगह होनी चाहिए और उनको फलहये नहीं।
– हम सभ को इन रूल्स का पालन करना चाहिए।

5 s के लाभ

1 कार्यक्षेत्र मे 5 s अप्लाई करने से कार्यक्षेत्र साफ़ सुथरा हो जाता है ।
2 काम आने वाली और ना आने वाली वस्तुओं को आसानी से पता लगया जा सकता है।
3 काम करने में समय की बचत होती है और यहाँ समय हम किसी और गतिविधियों को पूरा करने में लगा सकते है ।
4 कंपनी के साथ -साथ वयक्ति विकास के लिए भी 5S बहुत जरूरी है।
5 कंपनी के प्रोडक्शन बढ़ने के साथ – साथ प्रोडक्ट की घुनवता भी बढ़ती है।
6 कार्य जीवन सुधर से कार्यकर्ता के मनोबल में भी विर्दी होती हैं ।
7. मिलजुलकर कार्य करने से वर्कर्स में आपसी भाईचारा बढ़ता है ।
8 कार्यक्षेत्र मे 5S अप्लाई करने से हर काम सुरक्षित ढ़ंग से होता है जिससे दुर्घटना होने के कारणों में कमी आ जाती है
9. कार्यक्षेत्र मे 5S अप्लाई करने से काम आसानी से हो जाता है और वर्कर्स का काम करने में मन लगा रहता है ।
10 कम समय में जायदा काम होता है और जिससे कंपनी का प्रोडक्शन बढता है।

5S न करने से होने वाली हानीया

1. कार्यक्षेत्र में 5S का इम्प्लीमेंट न करने से सामान इधर उधर बिखरा पड़ा होता है जिससे दुर्घटना होने के कारणों मे बढ़ावा मिलता है।
2. कार्यक्षेत्र मे शाफ़ई नहीं मिलती ।
3. जब कभी भी कोई coustmor और या फिर कोई auditor प्लांट को विजिट करने आता है तो वो असंतुस्ट होकर जाता है जिससे की कंपनी की मानमर्यादा को हानि होती है ।
4 किसी भी चीज को ढूंढने में टाइम जायदा लगता है जिससे की वर्कर के अंदर तनाव पैदा होता है ।
5. सामान टाइम पर नहीं मिलता जिससे की कई बरी कंपनी को बहुत भारी नुकसान उठाना परता है ।

 5S की पूरी जानकारी हिंदी मेके बारे मे आप सभी लोगो से हाथ जोड़ कर गुजारिश

यदि आप को यहाँ पोस्ट 5S की पूरी जानकारी हिंदी मे पसंद आया है तो किरपा कर के ऐसे आपने सहकर्मियों क साथ जरूर शेयर करे यदि आप को इस पोस्ट से सम्भंदि कोई और जानकारी चाहिए तो कृपा आपने सुझाव निचे दिये गये हुए कमेंट बॉक्स में लिखे और यदि आप को और बायलर सम्भंदि पोस्ट चाहिए तो बायलर क उस सेक्शन के बारे में हमे या तो कमेंट बॉक्स में लिखे याः फिर मुघे मेरी पर मुघे करे किरपा लिखे शेयर और कमेंट करना ना भूले आप का प्यार हमारे लिया और मेहनत से काम करने के लिया प्रेरित करता है …….धन्यवाद

Facebook Comments
1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 महत्वपूर्ण बायलर चलाने संबंधित दिशानिर्देश
बायलर की हिंदी मे जानकारी
1
16 महत्वपूर्ण बायलर चलाने संबंधित दिशानिर्देश

16 महत्वपूर्ण बायलर चलाने संबंधित दिशानिर्देश आज हम आप के साथ बहुत महत्वपूर्ण जानकारी बाटने चाहते यह जानकारी बायलर चलाने संबंधित  दिशानिर्देश ( boiler operation instruction) है पिछले वर्ष बायलर फैक्ट्रीज में बहुत बड़े हादसे हो गये और हम लोगो नए आपने बहुत सरे जानकार व् सहभागी लोगो को खो …

Translate »